34 C
New Delhi
Thursday, April 15, 2021
Home Breaking News मुंग दाल के क्या है फायदे ?

मुंग दाल के क्या है फायदे ?

आज हम जानेंगे की मुंग के दाल के क्या क्या फायदे है और क्या क्या नुकसान है। तो चलिए पहले हम यह समझते है कि मुंग की दाल में ऐसा क्या होता है जिसकी वजह से यह सभी दलों में से सर्वश्रेष्ठ है और बहुत सी बीमारियों में लाभदायक होती है और वजन कम करने में मुख्य भूमिका निभाती है।

मुंग दाल :- मुंग दाल दो प्रकार की होती है
1. हरी छीलके वाली
2. पीली मुंग दाल
आजकल के भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपने खानपान का ध्यान नहीं रखते है जिसकी वजह से हमारे शरीर में आवश्यक पौषक तत्वों की कमी हो जाती है और कई तरीके की खतरनाक बीमारी होने का खतरा हो जाता है इसलिए हमे अपने खानपान का ध्यान रखना चाहिए , अगर रोजाना एक कटोरी मुंग की दाल खाते है तो हम शरीर भरपूर मात्रा में प्रोटीन, मैग्नेशियम, मिनरल्स,फाइबर, पोटैशियम, आयरन, विटामिन (ए, बी, सी, ई) सब मिलता है जिसकी वजह से हमारी भागदौड़ की ज़िन्दगी में भी अपने सेहत का अच्छे से ध्यान रख सकते है ।

मुंग दाल के फायदे :-

  • वजन कम करने में सहायक :- अगर आपमें से कोई अपना वजन बहुत तेज़ी से कम करना चाहता है तो आप आज से ही मुंग की दाल खाना शुरू कर दे क्योंकि मुंग की दाल में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता जिसकी वजह से आपको कम भूख लगेगी और आपका शरीर में कैलोरी भी नहीं बढ़ने देता है। अंकुरित मूंग खाने से शरीर में सुगर का स्तर भी नहीं बढ़ता है।

  • कब्ज से छूटकारा :- अगर आप अपने कब्ज़ से परेशान है तो उससे छुटकारा पाने के लिए आपको अपना नाश्ते में दूसरे भारी भोजन के बदले मुंग दाल का सेवन करना होगा जिससे कि आपके शरीर में फाइबर की भरपूर मात्रा जाए जिससे की आगे कभी कब्ज़ की समस्या ना हो। मुंग दाल और दालो के मुकाबले सबसे हल्की होती है और आसानी से पच जाता है और गैस जैसी संबंधित बीमारियो से बचाता है क्योंकि इसमें फैटी एसिड जैसे बहुत से घटक उपलब्ध होता है ।

  • डायबिटीज़ को नियंत्रण करने में सहायक :- डायबिटीज़ की समस्या खून में मौजूद सुगर का लेवल बढ़ने के कारण होता है। मुंग की दाल खाने से सुगर लेवल नहीं बढ़ता क्योंकि इसमें एंटीऑक्सिडेंट और एंटीबायोटिक नमक गुण पाए जाते है जोकि रक्त में मौजूद ग्लूकोज को कम करने में सहायता करता है।

  • मुंग की दाल गर्भावस्था के दौरान खाने से बच्चे और मां को किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी क्योंकि मुंग दाल में फोलेट भरपूर मात्रा में पाया जाता है। शोध से पता चला है कि 100 ग्राम मूंगदाल में 625 ग्राम फोलेट की मात्रा पाई जाती है जिससे कि गर्भावस्था के दौरान जन्म दोष को दूर करता है। अगर मुंग दाल से बने कच्चे स्प्राउट्स का सेवन करे तो पेट खराब होने की आशंका हो सकती है इसलिए गर्भवती महिला को कच्चे स्प्राउट्स के बदले उसको उबालकर खाना बेहतर हो सकता है।

  • हार्ट स्ट्रोक में मददगार :- गर्मी के कारण जब शरीर में पानी कि कमी होती है जिसकी वजह से हार्ट स्ट्रोक का खतरा बड़ जाता है इससे बचने के लिए गर्मी में मुंग दाल का सूप पीना चाहिए क्योंकि इसमें एंटीऑक्सिडेंट और विटेक्सिं पाया जाता है ।

हम उम्मीद करते है कि आपको मुंग दाल के फायदे पता चल गया होगा । अगर आप चाहे तो आप इसे दैनिक आहार में शामिल कर सकते है जिससे आपको बहुत सारे आवश्यक पोषक तत्व मिल सके। आशा करते है कि यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments